2019 लोक सभा चुनाव से पहले मोदी ने फेंक दिया अपना ब्रम्हास्त्र, विरोधी हुए पागल। …

राम राम जी, आपके अपने वेब पोर्टल ड्रेस प्लेनेट में हार्दिक सवागत है, मित्रों जैसा की आप सभी इस बात से अवगत ही होगें कि भारत एक ऐसा देश है जो दुनिया का सबसे बड़ा गणतंत्र (डेमोक्रेसी) माना जाता है, वहीं अगर अन्‍य देशों की बात की जाए तो वो इस लिस्‍ट में भारत के नीचे ही आते है, वहीं अगर की जाए 2019 कोक सभा महा चुनाव की तो अब उसके लिए अधिक समय शेष नही बचा है, जिसके चलते सभी राजनैतिक पार्टियां अपनी अपनी तैयारियों में लग चुकी है, वहीं 2019 लोक सभा चुनाव से पहले ही माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी का साथ छोड़ चुके पुराने यहयोगियों के लिए बड़ा दांव खेल दिया है, जिससे विरोधियों पार्टियों के होश ठिकाने पर नहीं है सभी बड़े दिग्गज नेता पागल हो चुके है !

दरअसल 2019 लोक सभा महा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी के पुरान सहयोगी दलों की ओर इशारा करते हुए माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र नरेन्‍द्र मोदी जी ने कहा है‍ कि हम अपने पुराने मित्रो का सम्मान करते हैं और हमारे दरवाजे राजनीतिक दलों के लिए हमेशा खुले हैं पर राजनीतिक मुद्दों से अधिक एक विजयी गठबंधन असल में लोगों के साथ गठबंधन है,’ यह बातें माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र नरेन्‍द्र मोदी ने तमिलनाडु भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं से विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कही जो चौंकाने वाली बात हो सकती है, तमिलनाडू की क्षेत्री राजनीति दल बता डी. एम. के. और ए. आई. एडी. एम. के. पहले पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई जी के शासनकाल के दौरान रह चुकी है, यही कारणह है कि माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र नरेन्‍द्र मोदी ने इन दलों को एक बार फिर गठबंधन में आने का इशारा किया है !

यहाँ हम आपकी अधिक जानकारी के लिए बताना चाहते है की उपरोक्‍त के संबंध में माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी जी ने कहा है कि 20 साल पहले, अटल जी सफल गठबंधन की राजनीति की नई संस्कृति लेकर आए, भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा अटल जी के दिखाए रास्तों का अनुसरण किया है, ऐसा हमने भी किया जब हम पूर्ण बहुमत के साथ जीतकर 2014 में सत्ता में आए थे, माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी जी के बातों से साफ लग रहा है कि माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी जी एक बार फिर तमिलनाडु के क्षेत्रीय दलों को अपने पाले में करने के लिए बड़ा दांव खेल दिया है, अब देखना यह है कि भारतीय जनता पार्टी दक्षिण भारत में कितनी मजबूत होती है !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *