2019 लोक सभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह ने बनाया ये मास्टर प्लान जिससे 300 सीट्स आने से कोई नहीं रोक सकता। …

आपके अपने वेब पोर्टल ड्रेस प्लेनेट में हार्दिक सवागत है, मित्रों वर्तमान समय में 2019 लोक सभा चुनाव के कारण भारत की राजनीती अपनी चरम सीमा पर आकर खड़ी है तथा हर पार्टी जोरो शोरो से अपना प्रचार करने में लगी है इसी बिच देश भर में इस चुनावी मौसम के बिच हर पार्टी के दिग्गज नेता भड़काऊ बयान बाज़ी करने से पीछे भी नहीं हट रहे है.

मित्रो इस संबंध में सरकार ने कई योजनाओं, स्कीम्स को लॉन्च किया है और लोगों तक पहुँचाने का प्रयास किया जा रहा है, और यह निर्णय किया है कि मोदी सरकार ये सब योजनाए देश भर के गरीबों के लिए बनाई है जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आए मित्रो केंद्र की मोदी सरकार हर तरीको से गरीबों के विकास में निरंतर लगी हुई है हालांकि कुछ ऐसी भी योजनाएं है जो करप्शन के चलते गरीबों तक नही पहुंच पाई .

सपा और बसपा (बुआ-बबुआ) के गठबंधन की चनौती को पार पाना भाजपा के लिए इतना आसान नहीं होगा इस गठबंधन को पर पर के लिए भाजपा ने भी रणनीति करनी शुरू क्र दी है,!पार्टी के बी. जे. पी. के राष्ट्रीय माननीय अध्यक्ष श्री अमित शाह जी ने शनिवार को राष्ट्रिय मीटिंग के बाद विस्तारको, प्रदेश अध्यक्ष,और संगठन मंत्री के साथ साथ सह प्रभारियो के साथ भी बैठक की है, जिसमे हर प्रकार के वोटरों (मध्यम वर्ग, स्वर्ण निचला वर्ग) को अपने साथ मिलाने में बल दिया गया है, मित्रो समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी (बी एस पी) का गठबंधन औवेसी और दलित का गठबंधन न बने इसीलिए भाजपा ने इसे दलित-जादव गठबंधन के रूप में प्रचार करने की योजना बनाई है, मन जा रहा है की इस प्लेन के आगे बुआ बबुआ का गठबंधन नहीं टिक पाएगा !

जिससे दूसरे पिछड़े और दलित भारतीय जनता पार्टी के साथ भी आ सके, मित्रो भारतीय जनता पार्टी इस गठबंधन से पार पाने के लिए हर प्रकार का प्रयास कर रही है, मित्रो आपको बता दे भारतीय जनता पार्टी ने हर प्रकार के विस्तारको को हर प्रकार 50 प्रतिशत वोट प्राप्त करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंकने के लिए प्रयास कर रही है, भारतीय जनता पार्टी को सिर्फ इस बात की चिंता है कि सपा और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से भारतीय जनता पार्टी को सबसे बड़ी चिंता यह है कि सपा और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन के बाद पिछले दो चुनाव में पार्टी के साथ मजबूती से खड़ा गैर यादव औवेसी और गैर जादव दालित वोट बैक में कंही सेंध न लग जाए! और इसके लिए दोनों दलो से भारतीय जनता पार्टी सामरस बनाने की कोशिश कर रही है। …

मित्रो अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई तो कृपया इसे अधिक से अधिक शेयर करना न भूले व् हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक करें !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *