राफेल विवाद पर फ्रांस ने खोली राहुल (पप्पू) की पोल, बुरे फंसे राहुल खांदी

राम राम जी, आपके अपने वेब पोर्टल ड्रेस प्लेनेट में हार्दिक सवागत है, मित्रों जब से केंद्र में मोदी जी की सरकार आई है तब से जनता और देश हित में ही कार्य कर रही है, वर्तमान समय में पूरे देश में राफेल सौदे को लेकर मामला बहुत तूल पकडे हुए है, पर इस मामले में कोई दो रे नहीं है यह एक हजुठा आरोप लगाया जा रहा है, मित्रो जैसा की आप इस मुहावरे से अवगत ही होंगे की एक झूट को 100 बार बोलने से वे झूठ सच लगने लगता है बस इसी मुहावरे के चलते काँग्रेस पार्टी जी रही है, यहाँ हम आपको हम बता दे कि फ़्रांस के लड़ाकू विमान राफेल की खरीददारी में सही प्रकार से खरीद प्रक्रिया का पूर्णतः से पालन किया गया है.

केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल सुरक्षा समिति ने भी इस मामले पर अपनी मुहर लगा दी थी,और राफेल विवाद पर पूरे देश में विकराल रूप ले चूका है, और विपक्ष इस मुद्दे को लेकर लगातार भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर हो रहा है, भारतीय जनता पार्टी ने इस मामले में कोर्ट को एक हलफनामा प्रतुत किया है, और वह हलफनामा 14 प्रश्ठो का है, इस हलफनामे के आधार पर राफेल रक्षा विमान की खरीददारी की पूरी प्रक्रिया 2013 के आधार पर पूरी कर दी गई है, व् उसमे कोई किसी प्रकार का झोल नहीं किया गया है इसपर सुप्रीम कोर्ट ने मौहर लगा दी है !

मित्रो इस हलफनामे में राफेल 36 की खरीददारी की पूरी प्रक्रिया के बारे में ही संक्षेप में विवरण किया गया है, सरकार ने कहा है कि सरकार कोई भी ऐसा निर्णय नहीं लेगी जिससे देश की क़ानूनी प्रकिया को किसी प्रकार की भी रुकावट का सामना करना पड़े, इन दस्तावेजो में बताया गया है कि भारतीय वार्ताकार दलो का गठन किया गया था जिसने सम्भवता एक साल तक फ़्रांस के दल से बातचीत भी की थी, तब जाकर सरकारी समझौते पर अपने हस्ताक्षर किए थे, सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मुद्दे पर मोदी को क्लीन चिट दे दी है लेकिन कांग्रेस इस बात को मानने के लिए ही तैयार नहीं है कि इस डील में किसी प्रकार का घोटाला और अनियमितता नहीं की गई है !!!

मित्रो यह हम आपको बताना चाहते है की इस विवाद में फ्रांसीसी राजदूत एलेक्जेंडर जिगलर ने भी कहा है कि भारत देश के लोगो को चारो और से आ रहे त्वीट्स और भ्रामक जानकारियों को नजरअंदाज कर देना चाहिए, और वहां के लोगो को तथ्य पर आधारित जानकारी पर ही विश्वास करना चाहिए फ़्रांस से आए इस बयान के बाद राहुल गाँधी की मूर्खता के चलते वे कष्ट में भी पर सकते है !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *