बुआ-बबुआ के गठबंधन का तोड़ निकालने के लिए भाजपा ने बनाई ये युक्ति, इस युक्ति के सामने नहीं टिकेगा गठबंधन…

आपके अपने वेब पोर्टल ड्रेस प्लेनेट में हार्दिक सवागत है, मित्रों वर्तमान समय में भारत की राजनीती अपनी चरम सिमा पर है ऐसा इसीलिए आने वाले ४ महीने बाद ही लोक सभा 2019 के चुनाव है, और किसी पार्टी के पास अधिक समय नहीं है चुनाव की तेयारिया करने के लिए इसीलिए हर पार्टी अपने पुरे दम-खम के साथ चुनाव की तैयारियों में लगी हुई है और कोई पार्टी लोकसभा चुनाव में किसी प्रकार की कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती.

क्योकि मोदी लहर के चलते हर पार्टी को अपनी हार का डर सता रहा है, क्योकि 2014 के लोकसभा चुनाव में साडी पार्टिया बहुत ही बुरी तरह से हर का सामना करना पड़ा था, हर पार्टी के दिग्गज नेता चुनावी बयान बाजी में लगे हुए है ताकि न्यूज हेडलाइंस में स्थान प्राप्त कर सके और इसी बिच महा गठबंधन में पि एम् पद की दौड़ चल रही है सभी पार्टिया अपना दबदबा दिखने का प्रयास कर रही है !

अगर यहाँ यू. पी. की राजनीति की बात करे तो उत्तर प्रदेश पुरे देश में सबसे अधिक सीटों वाला राज्य है इसलिए यू पी को राजनीती का केंद्र बिंदु कहाँ जाता है, यही कारण है कि उत्तर प्रदेश राज्य पुरे देश में लोक सभा की सीट अधिक होने के कारण केंद्र सरकार बनाने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण मना जाता है, की बड़े राजनीतिज्ञों का मानना है कि अगर कोई भी पार्टी देशभर में अच्छा प्रदर्शन करती पर यू पी सीट कम है तो देश भर में अच्छे प्रदर्श का कोई लाभ नही है, मित्रो आखिर किस प्रकार पुरे देश में कांग्रेस यूपी में मात्र 2 सीटो पर ही सिमट गई थी!और यही कारण है कि प्रधान मंत्री गुजरात छोड़कर उत्तर प्रदेश आ गए है।

यहाँ हम आपको बता दे की 2019 लोकसभा चुनाव में बुआ-बबुआ (सपा और बसपा) का गठबंधन उनके सामने उत्तर प्रदेश में एक बड़ी दीवार की भाती खड़ा है, जिसको बी. जे. पी. के लिए इसको भेद पाना बहुत ही कठिन है, पर लेकिन बहुजन समाज पार्टी और समाज वादी पार्टी के विरुद दीवार भेदने की पूरी तैयारी बी. जे. पि. कर रही है. और इसी कारण बी जे पी राम मंदिर मुद्दे को मुख्य भूमिका में भी ला सकती है, और स. पा. और ब. स. पा की दीवार को गिराने में योगी आदित्य नाथ जी मुख्य भूमिका भी निभा सकते है, क्योकि उत्तर प्रदेश देश का सबसे महत्वपूर्ण राज्य माना जाता है लेकिन अब यह तो समय ही बता पाएगा कि यह दोनों विकल्प भारतीय जनता पार्टी के काम आएँगे या नहीं आएंगे !

मित्रो अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई तो कृपया इसे अधिक से अधिक शेयर करना न भूले व् हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक करें

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *